Advertisement

Responsive Advertisement

असम की प्रमुख क्षेत्रीय पार्टी कौन सी है. जानते है उस पार्टी का पूरा इतिहास.

 जय हिन्द दोस्तों आज हम जानेगे कि कोन-कोन से पार्टी असम की प्रमुख क्षेत्रीय पार्टी है.और साथ में ये भी जानेंगे कि असम में किस पार्टी का चुनाव चिन्ह क्या है.

असम की प्रमुख क्षेत्रीय पार्टी./ Asam ki prmukh kshetriy party. 

 असम गण परिषद् असम की प्रमुख केन्द्रित क्षेत्रीय पार्टी है, तो जानते है असम गण परिषद् के बारे में.

1. असम गण परिषद (AGP)

   चुनाव चिन्ह : हाथी 

बंगलादेशी लोगो के असम में हो रहे अवैध घुसपेठ का वहाँ की जनता द्वारा लम्बे समय से विरोध किया जा रहा था. 1978 में जब मंगलडोई लोक सभा निर्वाचन नामावली में संसोधन किया जा रहा था, तब यह पाया गया कि लाखो अवैध घुसपेठियो का नाम निर्वाचन लिस्ट में दर्ज है. इसके बाद 1979 में आल असम स्टूडेंट्स यूनियन (AASU) के अध्यक्ष प्रफुल्ल कुमार महंत एवं महासचिव भृगु कुमार फुकन के नेत्रत्व में घुस्पेठियो को देश से बाहर करने के लिए जबरदस्त आन्दोलन शुरू किये गये. इसे असम के लोगो का भरपूर सहयोग मिला. यह आन्दोलन असम आन्दोलन के नाम से प्रसिद्ध हुआ. 

PIL क्या है. पढ़े पूरी प्रक्रिया  

 

प्रफुल्ल कुमार महंत (असम)
प्रफुल्ल कुमार महंत

उस समय असम के कई राजनितिक एवं गेर राजनीतिक संगठनो ने 'AASU' के साथ मिलकर आल असम गण परिषद् (AAGSP) का गठन किया तथा आन्दोलन को नई दिशा दी. यह आन्दोलन 6 वर्षो तक चला, AASU-AAGSP एवं भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गाँधी के मध्य 15 अगस्त, 1985 को हुए 'असम समझोता' के बाद आन्दोलन समाप्त हुआ.

AASU के द्वारा 13-14 अक्टूबर,  1985 को गोलाघाट में राष्ट्रीय सम्मलेन आयोजित किया गया. सम्मलेन में एक क्षेत्रीय ( राज्य स्तरीय ) राजनितिक दल 'असम गण परिषद' (AGP) के गठन की घोषणा की गई. AGP ने 1985 के विधान सभा चुनाव में हिस्सा लिया था.तथा 126 में से 67 सीटे जीती थी. प्रफुल्ल कुमार महंत भारत के सबसे युवा (33 वर्षीय) मुख्यमंत्री के रूप में असम के मुख्यमंत्री बने. 2005 में इन्होने एक नई पार्टी असम गण परिषद् (प्रोग्रेसिव) बनाई. 


तो दोस्तों केसी लगी आपको हमारे द्वारा साझा की गई जानकारी 'असम की प्रमुख क्षेत्रीय पार्टी' कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं.......

 

धन्यवाद.......

भीमा कोरे गावं का इतिहास 

मराठा साम्राज्य का इतिहास  



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ